इंसान का बायोलॉजिकल नेम क्या है? - Biological Name of Human

हम इंसान इस पृथ्वी पर युगो से रहते आ रहे हैं, हम मानव जाति को हर भाषा में अलग नाम से बुलाया (जाना) जाता है। किसी भाषा में हम मानव जाति को Human कहते हैं, तो किसी भाषा में हम मानव जाति को इंसान कहा जाता है। क्या बात हुई भाषा की, हम भाषा के आधार पर इंसान को कोई भी नाम दे देते हैं। पर क्या आप जानते हैं, इंसान का बायोलॉजिकल नेम क्या है? जानी वह नाम जो हम मानव जाति को विज्ञान ने दिया है। इस ब्राह्मण में जितने भी वस्तु में उपस्थित है, हर एक का कुछ ना कुछ नाम अवश्य ही होता है, तो चलिए आज आपको हम मानव जाति के बायोलॉजिकल नेम के बारे में कुछ जानकारियां आपके सामने रखते हैं, जिसे पढ़कर आप के ज्ञान में थोड़ी वृद्धि अवश्य ही होगी।

इंसान का बायोलॉजिकल नेम क्या है
इंसान का बायोलॉजिकल नेम क्या है?

दोस्तों इंसान का बायोलॉजिकल नाम जानने से पहले, आप इस बात से अवगत हो जाए कि, हमारी यह वेबसाइट ज्ञानदीप अपने हिंदी पाठकों का विशेष ध्यान रखती है, हम अपने पाठकों के लिए उच्च से उच्च श्रेणी का हिंदी लेख प्रदान करने की कोशिश करते हैं, क्यों हमारे रिसर्च के अनुसार पूर्ण रूप से तथ्यात्मक एवं सत्य होती है। यदि आपको हमारे लेख में कुछ भी आ सकते लगे, तो आप हमसे संपर्क करके अपनी शिकायत दर्ज कर सकते हैं।

इंसान का बायोलॉजिकल नेम क्या है?

इंसान यानी मानव जाति का बायोलॉजिकल नेम होमो सेपियंस है, जिसका अंग्रेजी अनुवाद Homo sapiens होता है।

होमो सेपियंस का अर्थ क्या है?

Homo sapiens या होमो सेपियन यह एक लैटिन शब्द है, जहा Homo का अर्थ Human Being यानी मनुष्य और Sapiens का अर्थ Sensible यानी समझदार है। तो यह कहा जा सकता है कि होमो सेपियंस का हिंदी अर्थ “Sensible Human” Being यानी “समझदार मनुष्य” होता है।

होमो सेपियंस क्या है?

Early Modern Human (EMH) यानी “प्रारंभिक आधुनिक मानव” या Anatomically Modern Human (AMH) यानी “शारीरिक रूप से आधुनिक मानव” यह ‌वह terms है, जो “होमो सेपियंस क्या है?”, इसका अर्थ समझने के लिए इस्तेमाल में लिया जाता है।

सरल शब्दों में आप यह भी कह सकते हैं, वैसे जीव जो दो पैरों पर चलते हैं, उन्हें होमो सेपियंस कहा जाता है।

शायद अब आप यह सोच रहे होंगे, Early Modern Human (EMH) यानी “प्रारंभिक आधुनिक मानव” या Anatomically Modern Human (AMH) यानी “शारीरिक रूप से आधुनिक मानव” क्या होते हैं? तो चलिए अब हमें इन दोनों शब्दों का अर्थ भी सरल शब्द में समझने की कोशिश करते हैं।

EMH या AMH क्या है?

Early Modern Human (EMH) यानी “प्रारंभिक आधुनिक मानव” या Anatomically Modern Human (AMH) यानी “शारीरिक रूप से आधुनिक मानव” दोनों शब्दों का अर्थ एक ही होता है, मतलब यह है कि दोनों शब्द एक ही बात‌ की ओर इशारा करते हैं।

EMH या AMH उस जिव को कहा जाता है, जो अपने शरीर में समय के साथ बदलते हैं, और अपने शरीर को इस योग्य बनाते हैं, कि वो किसी भी परिस्थिति में रह सकें। आप यह भी कह सकते हैं, वैसे जीव जो समय के साथ अपने जीवन को व्यतीत करने का तरीका बदलते रहते हैं, हम उन्हें EMH या AMH पार्थ होमो सेपियन कहते हैं।

यदि अभी भी आपको EMH या AMH का अर्थ समझ नहीं आया, तो चलिए हम इसे एक उदाहरण से समझते हैं। आप तो जानते ही हैं कि आज पूरा विश्व डिजिटल हो चुका है, पर क्या 100 वर्ष पूर्व हमारा विश्व ऐसा था? नहीं! तो फिर हम मानव जाति ने वक्त के साथ खुद को बदला, और अपने जीवन व्यतीत करने के तरीके को भी, इसी कारण हमने होमो सेपियंस पदार्थ EMH या AMH कहां जाता है।

इंसान का बायोलॉजिकल नाम किसने रखा?

इंसान का बायोलॉजिकल नाम, Carl Linnaeus में 1758 में दिया था, उसके बाद से ही मानव जाति का बायोलॉजिकल नेम होमो सेपियन पड़ गया।

इन्हें भी पढ़ें:

आशा है, आपको इस लेख से इंसान के बायोलॉजिकल नाम के बारे में बहुत सारी जानकारियां प्राप्त हुई होंगी, और यह भी पता चला होगा, इंसान का बायोलॉजिकल नेम क्या है? यदि आपको हमारी याद लेख पसंद आई, तो आप इसे अपने मित्रों के साथ फेसबुक, व्हाट्सएप, आदि पर शेयर करके ज्ञानदीप को आपके जैसे और अधिक हिंदी पाठकों तक पहुंचने में सहायता कर सकते हैं।

यदि आप और भी ऐसे ज्ञानवर्धक लेख पढ़ना चाहते हैं, तो हमारे वेबसाइट ज्ञानदीप को बुकमार्क करना ना भूलें, किस से आप हमारी वेबसाइट पर बार-बार आते रहेंगे और अपनी जान को बढ़ाते रहेंगे।

टिप्पणी पोस्ट करें

0 टिप्पणियां