Samsung Kis Desh Ki Company Hai?

Samsung का मोबाइल फोन आपने कभी ना कभी जरूर इस्तेमाल किया होगा, या फिर यह भी हो सकता है कि आप अभी भी सैमसंग का मोबाइल फोन ही इस्तेमाल करते हो। बेशक सैमसंग कंपनी बहुत ही अच्छे मोबाइल फोन को Provide कर आता है, पर क्या आप जानते हैं।‌ Samsung Kis Desh Ki Company Hai? या Samsung Ka Malik Kaun Hai? अगर आपको या जानकारियां प्राप्त नहीं है, तो चलिए हम आज आपको सैमसंग मोबाइल से जुड़ी कुछ जानकारियां प्राप्त कर आते हैं, जो आपके लिए बहुत ही महत्वपूर्ण रहेंगी।

Samsung

दोस्तों आपको बता दें कि सैमसंग कंपनी बहुत ही पुरानी कंपनी है, आपके घर हो सकता है पुराना कीपैड का मोबाइल होगा तो, आपने देखा होगा कि वह सैमसंग या फिर नोकिया कंपनी का रहता था। पर अधिकतर लोग सैमसंग का ही कीपैड मोबाइल पुराने वक्त में इस्तेमाल किया करते थे। पर अब तो कीपैड के मोबाइल का जमाना चला गया है, आप बूढ़े से लेकर बच्चे हर कोई स्मार्टफोन का इस्तेमाल करते हैं। आपकी जानकारी के लिए बता दें कि एप्पल कंपनी यानी आईफोन के बाद दूसरी सबसे बड़ी टेक कंपनी सैमसंग को ही माना जाता है, आज भारत में सैमसंग के मोबाइल काफी मात्रा में इस्तेमाल किए जाते हैं। भले ही चाइनीस मोबाइल मोबाइल जैसे ओप्पो, वीवो, आदि कंपनियां भारत के बाजार में अपना कब्जा बनाने की कोशिश कर रही हैं, पर सैमसंग भी पीछे नहीं हट रहा, मौजूदा वक्त में सैमसंग भारत के 3 सबसे बड़े मोबाइल ग्रैंड में से एक है।

Samsung Kis Desh Ki Company Hai?

Sumsung, South Korea की एक बहुराष्ट्रीय Tech कंपनी है, जिसकी स्थापना आज से करीब 83 वर्ष पूर्व 1 मार्च 1938 को Daegu, Japanese Kore में Lee Byung-chul ने की थी।

आपकी जानकारी के लिए बता दें कि Samsung एक प्राइवेट कंपनी है, जो एक Conglomerate है। Conglomerate मेरा कहने का अर्थ यह है कि, सैमसंग एक ऐसी कंपनी है जो एक से ज्यादा Business Entities यानी व्यावसायिक संस्थाओं को चलाती है।

सरल शब्दों में Conglomerate का अर्थ कहो तो, ऐसी कंपनियां जो और दूसरे कंपनियों के भी मालिक हो। आप अपनी ज्ञान में या बात भी रखले की Conglomerate कंपनी अक्सर बड़े और बहुराष्ट्रीय होते हैं।

अब तक आप यह जान ही चुके होंगे कि सैमसंग किस देश की कंपनी है, तो अब आप यह भी जान ले कि सैमसंग अपनी सेवाओं को पूरे विश्व में प्रदान करती हैं, सैमसंग के मौजूदा Chairman का नाम Lee Jae-yong है, और सैमसंग का Head Quarter यानी मुख्यालय South Korea के Seocho District में स्थित है।

Samsung Ka Malik Kaun Hai?

मित्रों, अधिकतर लोग यह सर्च करते हैं कि सैमसंग का मालिक कौन है? हम सैमसंग के मालिक का नाम जानने से पहले यह जानकारी प्राप्त करले की, सैमसंग कंपनी में लाखों लोग का Share, सैमसंग कंपनी किसी एक इंसान का नहीं है। तो आप यह भी कह सकते हैं कि सैमसंग कंपनी का मालिक उसके Share Holders है।

मैं आपकी जानकारी के लिए बता दू कि सैमसंग का सबसे अधिक Share अभी भी सैमसंग कंपनी के पास ही है, जो करीब सैमसंग के कुल Share का 19.58% है। सैमसंग कंपनी के अलावा सैमसंग के Share का 10.02% Share; National Pension Service Of Korea का है,‌ 5.01% Share; BlackRock Fund Advisor का है। और इसके अलावा 42% से अधिक Share; Foreign Investor और आदि के पास है। [Source: SamsungSDI]

एक तथ्य पर हम यह कह सकते हैं, कि सैमसंग के मालिक का नाम Lee Byung-chul है, क्योंकि सैमसंग कंपनी की स्थापना इन्होंने ही की थी। चलिए अब हम सैमसंग के Founder/मालिक ‌ के बारे में कुछ जानकारियां प्राप्त कर लेते हैं।

Samsung के मालिक/Founder Lee Byung-chul का जन्म 12 फरवरी 1910 को Uiryeong, Gyeongsangnam-do, Korean Empire में हुआ था। Lee Byung-chul अब इस दुनिया में नहीं है, इनकी मृत्यु 70 वर्ष के उम्र में ही 19 नवंबर 1987 को Seoul, Shout Korea मैं हो गई थी।

Samsung Company Ka Itihas

जब 1938 में सैमसंग की स्थापना हुई थी, तब यह केवल एक Trading Company यानी दूसरे कंपनी का Goods और Products को बेचने वाली कंपनी थी। इस कंपनी ने स्थापना की बाद, करीब 30 वर्ष तक Trading Company के रूप में ही काम किया, और फिर गुजरते वक्त के साथ सैमसंग ने 1970 में इलेक्ट्रॉनिक्स चीजों की तरफ अपना पहला कदम बढ़ाया, और मोबाइल फोन, टीवी, आदि जैसे Product को बनाया और बेचा। 2020 के रिपोर्ट के अनुसार सैमसंग को विश्व का आठवां सबसे बड़ा Brand Value माना गया है।

इन्हें भी पढ़ें:

Federation का हिंदी अर्थ और उसकी पूरी जानकारी।
गूगल का मालिक कौन है?
Mutual Funds क्या है इसकी पूरी जानकारी प्राप्त करें।
DRDO का Full Form और हिंदी अर्थ क्या होता?

आशा है इस लेख से आपको सैमसंग कंपनी के बारे में बहुत सारी जानकारियां प्राप्त हुई होगी, और यह भी जानने को मिला होगा कि सैमसंग किस देश की कंपनी है? और सैमसंग का मालिक कौन है? यदि आपको हमारी यह लेख पसंद आई तो आप इसे अपने मित्रों के साथ फेसबुक व्हाट्सएप आदि पर शेयर कर कर ज्ञानदीप को अपनी जैसे हिंदी पाठकों तक पहुंचने में सहायता कर सकते हैं।