WHO Full Form In Hindi | WHO का फुल फॉर्म

WHO, ये वह स्वास्थ्य संस्था है, जो पूरे विश्व के सार्वजनिक जीवन को अच्छे स्वास्थ्य के लिए कार्य करता है, आप इस बात से पूर्ण रूप से परिचित होंगे कि वर्तमान समय में पूरा विश्व Carona जैसे महामारी से लड़ रहा है, और हम इस महामारी से लड़ने में कुछ हद तक सफल भी हो रहे हैं। पर क्या यह सफलता विश्व के विभिन्न सरकारों के फैसले से मिली है? जी नहीं! इसमें हमारे डब्ल्यूएचओ का बहुत बड़ा योगदान है, हमारे या विश्व के किसी देश या उनकी सरकार ने WHO के Guildlines को ही Follow किया है। पर क्या आप इस संस्था WHO के बारे में कुछ जानते हैं, यदि नहीं! तो, हमने इस लेख में WHO Full Form In Hindi में बताया है,‌ और इस संस्था से जुड़ी कुछ अवश्य जानकारियां आपके सामने रखने की कोशिश की है, जिसे पढ़ने के बाद आपको इस बात का महत्व पता चलेगा कि WHO हमारे लिए क्या-क्या कार्य करता है, और इसकी Importance क्या है।

WHO Full Form In Hindi
WHO Full Form In Hindi

स्वास्थ्य ही सबसे बड़ा धन है, यह वो सच्चाई है, जो इस दुनिया में रहने वाला हर व्यक्ति जानता है। क्योंकि स्वास्थी वह चीज है, जिसकी वजह से मानव किसी कार्य को संपूर्ण रूप से कर सकता है, पर जो लोग आर्थिक रूप से कमजोर होते हैं, उनके पास तो कभी कभी खुद के पेट भरने के लिए भी पैसे नहीं होते हैं, जिसकी वजह से उनके स्वास्थ्य पर भी असर पड़ता है, इस जैसी समस्याएं और इससे की बड़ी कई समस्याओं का समाधान WHO करता है।

WHO Full Form In Hindi

WHO का फुल फॉर्म “World Health Organization” है, जिसका हिंदी अर्थ “विश्व स्वास्थ्य संगठन” होता है।

WHO क्या है?

WHO, United Nations यानी संयुक्त राष्ट्र की एक विशेष एजेंसी है, जिसके जिम्मेदारी विश्व के सार्वजनिक स्वास्थ्य का ध्यान रखना है। इस संस्था की स्थापना आज से 72 वर्ष पूर्व, 7 अप्रैल 1948 को की गई थी, इसी वजह से हर वर्ष 7 अप्रैल को World Health Day भी मनाया जाता है। ‌ WHO का मुख्यालय जिनेवा, स्विजरलैंड में है, और इसके अलावा 150 कार्यालय ऑफिस भी पूरे विश्व में स्थित है।

WHO का कार्य क्या है?

WHO का कार्य विश्व भर में, किसी भी बीमारी से पीड़ित लोगों का स्वास्थ्य का ध्यान रखना, और उन्हें बेहतर से बेहतर स्वास्थ्य सेवाएं प्रदान करना है।

WHO उन देशों को आर्थिक मदद भी देती है, जो देश स्वास्थ्य के मामले मे आर्थिक रूप से कमजोर होते हैं, यह स्वास्थ्य से संबंधित किसी आपातकाल यानी कोई महामारी फैलने के डर को रोकने का भी कार्य करता है।

WHO के अध्यक्ष कौन है?

WHO के महानिदेशक यानी अध्यक्ष का नाम Tedros Adhanom Ghebreyesus है, जिनका जन्म 3 मार्च 1965 को हुआ है, यह इथोपियन Biologist एवं Public Health Researcher है, जिन्हें 1 जुलाई 2017 को WHO के Head (Director-General) के रूप में चुना गया है।

WHO के बारे में जानकारी।

अब तक आप यह जान ही चुके होंगे कि WHO यानी World Health Organization की स्थापना 7 अप्रैल 1948 को हुई थी। चलिए अब हम इसके बारे में कुछ और महत्वपूर्ण जानकारियां प्राप्त कर लेते हैं, विश्व स्वास्थ्य संगठन की स्थापना के 3 महीने बाद 24 जुलाई 1948 को पहला WHA यानी World Health Assembly की पहली मीटिंग बुलाई गई थी, वर्तमान समय में विश्व स्वास्थ्य संगठन में 194 सदस्य देश और दो संबंध सदस्य है, इस संस्था का एकमात्र उद्देश्य विश्व भर में स्वास्थ्य के स्तर को ऊंचा करना और मजबूत बनाना है, ताकि भविष्य में कभी भी कोई‌ स्वास्थ्य जुड़ी आपातकालीन स्थिति आए तो उससे आसानी से लड़ा जा सके।

विश्व स्वास्थ्य संगठन का कार्य करना इतना ही नहीं, बल्कि ये पूरे विश्व के लिए अच्छे गुणवत्ता की दवाई प्रदान करता है, जिससे पूरे विश्व के पीड़ितों को लाभ मिलता है, और उनके स्वास्थ्य में सुधार आती है। आपने अक्सर देखा होगा कि बच्चों का पोलियो का टीका लगाया जाता है, ताकि भविष्य में उस बच्चे को कभी पोलियो के बीमारी ना हो पाए, यह भी विश्व स्वास्थ्य संगठन द्वारा चलाई गई एक मुहिम है। ऐसे और भी कितने महत्वपूर्ण कार्यों में डब्ल्यूएचओ अपना योगदान दिया है, और वर्तमान समय में भी दे रहा है।

इन्हें भी पढ़ें:

आशा करता हूं, आपको ऊपर दी गई जानकारियां महत्वपूर्ण लगी होंगी, यदि आपको हमारा यह लेख (WHO Full Form In Hindi) पसंद आई, तो आप इसे अपने मित्रों के साथ फेसबुक, व्हाट्सएप, आदि, पर शेयर करके ज्ञानदीप को आपके जैसे और हिंदी पाठकों तक पहुंचने में सहायता कर सकते हैं। धन्यवाद! ♥

ज्ञानदीप अपने पाठकों का विशेष ध्यान रखता है, हम अपने पाठकों के लिए उच्च से उच्च श्रेणी का लेख प्रदान करने की कोशिश करते हैं, जो हमारे साइज के अनुसार पूर्ण रूप से तथ्यात्मक एवं सत्य होती है। यदि आपको हमारे लेख में कुछ भी असत्य लगे तो आप हमसे संपर्क करके अपनी शिकायत दर्ज कर सकते हैं।

यदि आप और भी ऐसे ज्ञानवर्धक लेख पढ़ना चाहते हैं, तो आप हमारे वेबसाइट ज्ञानदीप को बुकमार्क कर सकते हैं। जिससे आप हमारी वेबसाइट पर बार-बार आते रहेंगे और अपने ज्ञान को बढ़ाते रहेंगे।

टिप्पणी पोस्ट करें

0 टिप्पणियां