Hyperlink क्या है, एवं कितने प्रकार के है?

Hyperlink

Hyperlink शब्द का उपयोग कंप्यूटर या इंटरनेट की दुनिया में इस्तेमाल किया जाता है,‌ यदि आप इंटरनेट या कंप्यूटर का इस्तेमाल करते होंगे तो इस शब्द का प्रयोग कई जगहों पर देखा होगा। यहां तक कि हमारे कंप्यूटर के एमएस वर्ड में भी एक हाइपरलिंक बनाने का विकल्प होता है, यदि आप Hyperlink के बारे में जानने के लिए इच्छुक हैं तो हम आप को इस बात से अवगत करा दें कि यह लेख आपके लिए बहुत ही ज्ञानवर्धक प्रतीत होने वाली है। क्योंकि इस लेख में हमने बताया है कि Hyperlink क्या है? एवं Hyperlink से जुड़ी संपूर्ण महत्वपूर्ण जानकारी आपके साथ साझा की हैं। आप इस लेख को अंत तक अवश्य पढ़ें।

Hyperlink क्या होता है?

कंप्यूटर का उपयोग या संचालन में Hyperlink इंटरनेट पर उपलब्ध किसी कंटेंट का हवाला या उद्धरण होता है, जिस पर User क्लिक करके उस कंटेंट को पढ़ या देख कर ज्ञान या मनोरंजन प्राप्त कर सकता है।

उपर्युक्त हाइपरलिंक के परिभाषा से यदि आपको हाइपरलिंक का अर्थ समझ नहीं आया तो चलिए हम एक उदाहरण से समझते हैं।

हम अपने दैनिक जीवन में प्रतिदिन इंटरनेट पर अपने प्रश्नों का उत्तर ढूंढते हैं, इंटरनेट पर किसी प्रश्न का उत्तर ढूंढने के लिए हमें किसी वेबसाइट के पेज पर जाना होता है जहां पर उस प्रश्न का उत्तर उपस्थित होता है। जब हम उस पेज पर उस प्रश्न का उत्तर प्राप्त कर रहे होते हैं, तब उस वेब पेज पर हमें हमारे प्रश्नों के समान अन्य उत्तरों (लेख) का भी लिंक (यूआरएल) प्राप्त होता है। अतः इन्हें ही हाइपरलिंक कहां जाता है।

जैसे कि इस लेख में “हाइपरलिंक क्या है?” का उत्तर दिया गया है, और हम एक लेख में भी एक हाइपरलिंक बनाया है। जो उपर्युक्त पैराग्राफ में ( ) में बंद “यूआरएल” है। आप जैसे ही उपर्युक्त यूआरएल पर क्लिक करेंगे तो आपको यूआरएल के बारे में पूर्ण जानकारी प्राप्त करने को मिलेगी।

Hyperlink के कितने प्रकार हैं?

Hyperlink के मुख्यता: दो प्रकार हैं, जो निम्नलिखित हैं।

• आंतरिक हाइपरलिंक (Internal Hyperlink)

• बाहरी हाइपरलिंक (External Hyperlink)

• ई-मेल हाइपरलिंक (Email Hyperlink)

• डाउनलोड हाइपरलिंक (Download Hyperlink)

आंतरिक हाइपरलिंक (Internal Hyperlink)

इंटरनेट पर उपलब्ध किसी वेबपेज पर स्थित किसी हाइपरलिंक पर क्लिक करने पर यदि वेबसाइट का URL नहीं बदलता है यानी आप उसी वेबसाइट पर उपस्थित रहते हैं, तो यह आंतरिक हाइपरलिंक (Internal Hyperlink) कहलाता है।

बाहरी हाइपरलिंक (External Hyperlink)

इंटरनेट पर उपलब्ध किसी वेबपेज पर स्थित किसी हाइपरलिंक पर क्लिक करने पर यदि वेबसाइट का URL बदलता है यानी हर हाइपरलिंक पर क्लिक करने के बाद मौजूदा वेबसाइट पुराने वेबसाइट से अलग होता है। तो यह बाहरी हाइपरलिंक (External Hyperlink) कहलाता है।

ई-मेल हाइपरलिंक (Email Hyperlink)

इंटरनेट पर उपलब्ध किसी वेबपेज पर स्थित किसी हाइपरलिंक पर क्लिक करने पर यदि ईमेल भेजने का विकल्प प्राप्त होता है, तो यह ई-मेल हाइपरलिंक (Email Hyperlink) कहलाता है।

डाउनलोड हाइपरलिंक (Download Hyperlink)

इंटरनेट पर उपलब्ध किसी वेबपेज पर स्थित किसी हाइपरलिंक पर क्लिक करने पर यदि कोई फाइल डाउनलोड होना शुरू हो जाता है, तो यह डाउनलोड हाइपरलिंक (Download Hyperlink) कहलाता है।

निष्कर्ष।

आशा है उपयुक्त जानकारियां आप को ज्ञानवर्धक प्रतीत हुई होंगी, एवं आपको हाइपरलिंक क्या होता है यह भी जानने को मिला होगा। यदि आपको हमारी यह लेख पसंद आए तो इसे अपने मित्रों के साथ फेसबुक, व्हाट्सएप, आदि पर शेयर करके ज्ञानदीप को अपने जैसे और हिंदी पाठकों तक पहुंचने में सहायता करें।


Post a Comment

0 Comments