Staff Selection Commission क्या है, एवं यह परीक्षाओं को आयोजित करता है?

SSC

Staff Selection Commission जिसका संक्षिप्त रूप SSC है, यह भारत सरकार के अंतर्गत आने वाली एक संगठन है। इस संगठन के विषय में अपने लोगों से कभी ना कभी अवश्य ही सुना होगा, वैसे तो यह संगठन भारत सरकार के विभिन्न मंत्रालयों और विभागों में और अधीनस्थ कार्यालयों में विभिन्न पद पर कर्मचारी जोड़ने के लिए होता है, यदि आप Staff Selection Commission के बारे में संपूर्ण जानकारी प्राप्त करना चाहते हैं, तो यह मेक आपके लिए अत्यंत ज्ञानवर्धक प्रतीत होने वाला है। क्योंकि इस लेख में हमने Staff Selection Commission से जुड़ी तमाम रोचक जानकारियां आपके साथ आसान भाषा में साझा करने की प्रयास की है। आप इस लेख को अंत तक अवश्य पढ़ें एवं अपने ज्ञान में वृद्धि करें।

Staff Selection Commission क्या होता है?

Staff Selection Commission भारत सरकार के अंतर्गत आने वाले एक संगठन है, जिसका कार्य भारत सरकार और अधीनस्थ कार्यालयों में विभिन्न मंत्रालय और विभाग में नए कर्मचारियों की भर्ती करना है।

Staff Selection Commission के बारे में।

Staff Selection Commission का गठन आज से करीब 45 वर्ष पूर्व 4 नवंबर 1975 को Subordinate Service Commission के रूप में किया गया था, इस संगठन का मौजूदा मुख्यालय भारत की राजधानी दिल्ली में स्थित है; एवं SSC के 7 क्षेत्रीय कार्यालय है, जो प्रयागराज, मुंबई, कोलकाता, गुवाहाटी, चेन्नई, बैंगलोर और नई दिल्ली में स्थित है, 7 क्षेत्रीय कार्यालय के अलावा दो उप-क्षेत्रीय कार्यालय रायपुर और चंडीगढ़ में है। आपकी जानकारी के लिए बता दें कि वर्तमान में Staff Selection Commission के चेयरमैन Braj Raj Sharma (IAS) है, उन्होंने 24 अक्टूबर 2019 को ही इस संगठन के चेयरमैन के रूप में ज्वाइन किया है।

Staff Selection Commission यानी SCC Department of Personnel and Training (DoPT) का एक संलग्न कार्यालय है, जिसने एक चेयरमैन, दो सदस्या, और एक सचिव-सह-परीक्षा नियंत्रक होते है; जिनका पद भारत सरकार के अंतर्गत आने वाले सचिव के स्तर के बराबर होता है।

Staff Selection Commission द्वारा आयोजित परीक्षा।

Staff Selection Commission द्वारा आयोजित की जाने वाली परीक्षाएं निम्नलिखित है।

1. CGL- Combined Graduate Level Examination

2. CHSL -Combined Higher Secondary Level 10+2 Exams

3. Stenographers Grade ‘C & ‘D’ Examinations

4. CAPFs, NIA & SSF Examinations for SSC Constables (GD)

5. Scientific Assistant Examination

6. Examination for Multitasking Non- Technical Staff (MTS)

7. CPO Examination in Sub-inspector post

8. Junior Engineer (Elect & Civil) Examination

9. Lower Division Clerk (LDC) Grade – Limited to Departmental Competitive Examinations

10. CSOLS/ Junior Translators, Junior Hindi Translators Examination

Staff Selection Commission का इतिहास।

सबसे पहले संसद में Estimates Committee ने अपने 47वे रिपोर्ट (1967-1986) मे Service Selection Commission की स्थापना की सिफारिश की थी, Estimates Committee ने निम्न श्रेणियों के पदों पर कर्मचारियों के भर्ती के लिए परीक्षा आयोजित करने के लिए Service Selection Commission कि गठन की मांग की थी।

जिसके बाद 4 नवंबर 1975 को Department of Personnel and Administrative Reforms में भारत सरकार ने एक आयोग का गठन किया था जिसका नाम Subordinate Service Commission रखा गया था, लेकिन इस आयोग के गठन होने के ठीक 2 वर्ष बाद यानी 26 सितंबर 1977 को Subordinate Service Commission का नाम बदल कर Staff Selection Commission रख दिया गया।

Subordinate Service Commission का नाम बदल कर Staff Selection Commission होने के करीब 22 वर्ष बाद, Staff Selection Commission के कार्यों को भारत सरकार के Ministry of Personnel, Public Grievances द्वारा 21 मई 1999 को फिर से परिभाषित किया गया। जिसके बाद Staff Selection Commission के नए कार्य एवं संविधान को 1 जून 1999 से लागू कर दिया गया, Staff Selection Commission को दोबारा परिभाषित होने एवं उसके कार्य एवं संविधान को लागू होने के बाद अब तक हर वर्ष Staff Selection Commission द्वारा विभिन्न परीक्षाएं आयोजित कराई जाती है।

FAQs

Staff Selection Commission की स्थापना कब हुई?

Staff Selection Commission की स्थापना 4 नवंबर 1975 को Subordinate Service Commission के रूप में हुई।

Staff Selection Commission का अध्यक्ष (Chairman) कौन है?

Staff Selection Commission अध्यक्ष वर्तमान में Braj Raj Sharma है, जो एक आईएएस ऑफिसर हैं।

Subordinate Service Commission का नाम कब बदल कर Staff Selection Commission रखा गया?

Subordinate Service Commission का नाम बदल कर Staff Selection Commission 26 सितंबर 1977 को रखा गया।

निष्कर्ष

आशा है! ऊपर एक जानकारियां के लिए ज्ञानवर्धक प्रतीत हुई हो, एवं Staff Selection Commission यानी SCC बारे में तमाम जानकारियां प्राप्त करने को मिली हो। यदि यह लेख आपको पसंद आया तो इसे अपने मित्रों के साथ फेसबुक, व्हाट्सएप, आदि पर शेयर करके Gyandeep को अपने जैसे और हिंदी पाठकों तक पहुंचने में सहायता करें।

Post a Comment

0 Comments