सर्वनाम हिंदी व्याकरण का एक अध्याय है, हिंदी वाक्यों को लिखने तथा बोलने में सर्वनाम का अधिकांश प्रयोग होता है। यदि आप जानना चाहते हैं कि सर्वनाम किसे कहते हैं? और सर्वनाम के कितने भेद होते हैं? तो यह लेेख आप अंत तक अवश्य पढ़ें।

सर्वनाम किसे कहते हैं?

वह शब्द जिसका प्रयोग संज्ञाओ तथा नामों के बदले किया जाता है, उन्हें सर्वनाम कहते हैं।

मैं, तुम, आप, यह, वे, वह, सो, कोई, कुछ, कौन‌ और क्या 11 वो शब्द है; जिनका प्रयोग संज्ञा के स्थान पर किया जाता है।

सर्वनाम के उदाहरण:

1 राम एक होशियार लड़का है, राम किसी भी कार्य को सोच समझकर करता है। राम एक होशियार लड़का है, वह किसी भी कार्य को सोच समझकर करता है।

उपर्युक्त वाक्य में “वह” एक सर्वनाम हैं, क्योंकि इसका प्रयोग संज्ञा “राम” के स्थान पर हो रहा है।

2 हम लोगों के पास एक गाड़ी है, गाड़ी नीले रंग का है। हम लोगों के पास एक गाड़ी है, जो नीले रंग का है।

उपर्युक्त वाक्य में “जो” एक सर्वनाम है, क्योंकि इसका प्रयोग ठीक संज्ञा “गाड़ी” के स्थान पर किया गया है।

3 सीता, गीता और रीता मित्र हैं; सीता, गीता और रीता एक साथ स्कूल जाते हैं। सीता, गीता और रीता मित्र हैं; वे एक साथ स्कूल जाते हैं।

उपर्युक्त वाक्य में “वे” एक सर्वनाम है, क्योंकि इसका प्रयोग संज्ञा “सीता, गीता और रीता” के स्थान पर किया गया है।

वाक्य में संज्ञा के स्थान पर सर्वनाम का प्रयोग क्यों किया जाता है?

वाक्य में संज्ञा के स्थान पर सर्वनाम का प्रयोग वाक्य को सुंदर एवं सुगठित बनाने के लिए किया जाता है, ताकि वाक्य पढ़ने वाले को वाक्य का संपूर्ण अर्थ सही सही समझ आ जाए।

चलिए अब हम समझते हैं कि संज्ञा के स्थान पर सर्वनाम के प्रयोग से वाक्य सुंदर तथा सुगठित कैसे बनता है?

एक प्रयोग की अवधारणा पर हम एक वाक्य देखते हैं। जो — गीता एक सुंदर लड़की है, गीता बहुत मीठा गीत गाती है एवं गीता के गीत से सभी लोग सम्मोहित हो जाते हैं।” यदि आप इस वाक्य को पढ़ेंगे तो आप को यहां पर आप होगा कि गीता शब्द का प्रयोग बार-बार हो रहा है जिससे वाक्य की सुंदरता नष्ट सी हो गई है। यदि इसी वाक्य को हम दूसरे प्रकार से लिखते हैं। ‌‌‌‌‌जो — गीता एक सुंदर लड़की है, वह बहुत मीठा गीत गाती है एवं उसके गीत से सभी लोग सम्मोहित हो जाते हैं।” यदि आपने इस वाक्य को पढ़ा होगा तो, यह वाक्य आपको सुंदर एवं संगठित प्राप्त हुआ होगा। क्योंकि अब इस वाक्य में सर्वनाम — वह और उसके का प्रयोग हुआ है।

सर्वनाम के कितने भेद होते हैं?

सर्वनाम की मुख्यता छह भेद होते हैं, जो निम्नलिखित हैं।

पुरुषवाचक सर्वनाम
निश्चयवाचक सर्वनाम
अनिश्चयवाचक सर्वनाम
प्रश्नवाचक सर्वनाम
निजवाचक सर्वनाम
संबंधवाचक सर्वनाम

पुरुषवाचक सर्वनाम किसे कहते हैं?

वह सर्वनाम जो स्त्री अथवा पुरुष के नाम के बदले प्रयोग में लिया जाता है; अर्थात वक्ता (बोलने वाला), श्रोता (सुनने वाला) एवं अन्य किसी तीसरे व्यक्ति (जिसके बारे में बोला जा रहा हो) का बोध होता है, उन्हें पुरुषवाचक सर्वनाम कहते हैं।

मैं, तुम, यह,‌‌ वह, हमलोग, आपलोग, इत्यादि पुरुषवाचक सर्वनाम है।

पुरुषवाचक सर्वनाम के उदाहरण:

मैं तुमसे कह रहा था कि वह मेरी बात नहीं मान रहा है।

उपर्युक्त वाक्य में “मैं”, “तुमसे” एवं “वह” पुरुषवाचक सर्वनाम के उदाहरण हैं, क्योंकि सर्वप्रथम तो इनका प्रयोग किसी पुरुष या स्त्री के नाम के स्थान पर किया गया है; एवं द्वितीय की इस उपर्युक्त सर्वनाम वक्ता, श्रोता एवं तीसरे व्यक्ति का बोध कर रहा है।

पुरुषवाचक सर्वनाम के कितने भेद होते हैं?

पुरुषवाचक सर्वनाम के तीन भेद होते हैं, जो निम्नलिखित है।

उत्तम पुरुष
मध्यम पुरुष
अन्य पुरुष

उत्तम पुरुष किसे कहते हैं?

वक्ता यानी बोलने वाला जिन सर्वनामो का प्रयोग खुद के लिए करता है, उन सर्वनामो को उत्तम पुरुष कहते हैं।

मैं, मेरा, मैंने, मुझे, मुझको, मेरी, हम, हमें, हमको, हमलोग‌, हमारे, हमसे, हमारा, आदि उत्तम पुरुष है।

उत्तम पुरुष के उदाहरण:

मैंने उसे नहीं पीटा है।
मुझसे यह गलती नहीं हुई है।
उसने मुझको गाली दी है।
उसने मेरी कलम ली है।
हमने आपको नहीं बुलाया है।
हमें इसकी जरूरत नहीं है।
हमपर केवल उनका अधिकार है।
हमलोगों ने आपको आमंत्रित किया है।

उपर्युक्त वाक्यों में प्रयुक्त शब्द — मैंने, मुझसे, मुझको, मेरी, हमने, हमें, हमपर एवं हमलोगों ने इत्यादि प्रथम पुरुष के उदाहरण हैं, क्योंकि वक्ता इन शब्दों का प्रयोग खुद के लिए कर रहा है।

मध्यम पुरुष किसे कहते हैं?

श्रोता यानी सुनने वाला जिन सर्वनामो का प्रयोग खुद के लिए प्रयोग होता महसूस करता है, उन सर्वनामो को मध्यम पुरुष कहते हैं।

तुम, तुझे, तुझको, तुम्हें, तुझे, तुम्हारे लिए, तुमको, तुमलोगो को, आदि मध्यम पुरुष है।

मध्यम पुरुष के उदाहरण:

तुम एक सुंदर लड़की हो।
मैंने तुम्हें प्रेम किया है।
राम तुमलोगो को पहचाता है।
मैं तुम्हारे लिए आई हूं।
शिक्षक तूमको बुला रहे हैं।
क्या तझे यह नहीं पता है।

उपर्युक्त वाक्यों में प्रयोग शब्द — तुम, तुम्हें, तुमलोगों को, तुम्हारे लिए, तुमको एवं तुझे मध्यम पुरुष के उदाहरण हैं, क्योंकि इन शब्दों का प्रयोग श्रोता अपने लिए प्रयोग होता महसूस कर रहा है।

अन्य पुरुष किसे कहते हैं?

जिन सर्वनामो का प्रयोग ना तो वक्ता के लिए और ना ही श्रोता के लिए किया जाता हो बल्कि अन्य किसी तीसरे व्यक्ति के लिए किया जाता हो, उन्हें अन्य पुरुष कहते हैं।

वह, वे, उसने, उसको, उन्हें, उनलोगों को, उनलोगों के लिए, उससे, उसकी, इत्यादि अन्य पुरुष है।

अन्य पुरुष के उदाहरण:

उसने मुझे बुलाया था।
उनलोगों ने इस कार्य को समाप्त किया था।
हमने उससे यह कलम खरीदी थी।
राम का उसपर संपूर्ण अधिकार है।
उन्हें गरीबों की चिंता नहीं है।
मैं उसके लिए पुस्तक लाऊंगा।

उपर्युक्त वाक्यों में प्रयोग शब्द — उसने, उनलोगों ने, उससे, उसपर, उन्हें एवं उसके अन्य पुरुष के उदाहरण है, क्योंकि उपर्युक्त सर्वनाम वक्ता तथा श्रोता के अलावा किसी तीसरे का बोध कर रहे हैं।

निश्चयवाचक सर्वनाम किसे कहते हैं?

वह सर्वनाम जो किसी पास या दूर रखा/रखी या खड़ा/खड़ा वस्तु या व्यक्ति की ओर की ओर संकेत करता है, आथार्त किसी निश्चित वस्तु या व्यक्ति का बोध करता है, उन्हें निश्चयवाचक सर्वनाम कहते हैं।

नोट: निश्चयवाचक सर्वनाम को संकेतवाचक सर्वनाम के नाम से भी जाना जाता है।

यह एवं वह निश्चयवाचक सर्वनाम है।

निश्चयवाचक सर्वनाम के उदाहरण:

वह मेरा भाई है।
यह राम की पुस्तक है।

उपर्युक्त वाक्यों में प्रयोग शब्द — वह एवं ‌‌‌‌‌यह निश्चयवाचक सर्वनाम के उदाहरण हैं,‌‌ क्योंकि इनका प्रयोग किसी पास या दूर रखा/रखी या खड़ा/खड़ी वस्तु या व्यक्ति की ओर संकेत करने के लिए किया जा रहा है।

नोट: “वह” एक ऐसा सर्वनाम है, जिसे पुरुषवाचक सर्वनाम एवं निश्चयवाचक सर्वनाम दोनों में रखा गया है।

जब “वह” का प्रयोग संज्ञा के‌ स्थान पर होता है, तब “वह” पुरुषवाचक सर्वनाम के रूप में कार्य करता है; लेकिन जब “वह” का प्रयोग किसी वस्तु की ओर संकेत करने के लिए किया जाता है, तब वह निश्चयवाचक सर्वनाम के रूप में कार्य करता है।

अनिश्चयवाचक सर्वनाम किसे कहते हैं?

वह सर्वनाम जो किसी वस्तु, व्यक्ति या प्राणी का बोध निश्चित रूप में नहीं करता है, उन्हें अनिश्चयवाचक सर्वनाम कहते हैं।

कोई एवं कुछ अनिश्चयवाचक सर्वनाम है।

अनिश्चयवाचक सर्वनाम के उदाहरण:

आज हमारे घर में कोई आया था।
भूखा इंसान कुछ भी खा सकता है।

उपर्युक्त वाक्यों में प्रयुक्त शब्द — कोई तथा कुछ अनिश्चियवाचक सर्वनाम के उदाहरण हैं, क्योंकि उपयुक्त शब्द किसी वस्तु व्यक्ति या प्राणी का निश्चित रूप से बात नहीं कर रही है।

संबंधवाचक सर्वनाम किसे कहते हैं?

वह सर्वनाम जो किसी अन्य संज्ञा या सर्वनाम के संबंध को सूचित करने का कार्य करता है, उन्हें संबंधवाचक सर्वनाम कहते हैं।

जो ... सो, यह ... जो, जिसकी‌ ... उसकी, जैसा ... वैसा, इत्यादि संबंधवाचक सर्वनाम है।

संबंधवाचक सर्वनाम के उदाहरण:

जो कर्म करेगा सो फल पाएगा।
यह वही कलम है जो मैंने कल खरीदी थी।
जिसकी लाठी उसकी भैैंस।

उपर्युक्त वाक्यों में प्रयोग शब्द — जो ... सो, यह ... जो और जिसकी ... उसकी संबंधवाचक सर्वनाम के उदाहरण है, क्योंकि उपर्युक्त सर्वनाम अन्य संज्ञा या सर्वनाम के संबंध को सूचित करने का कार्य कर रहे हैं।

निजवाचक सर्वनाम किसे कहते हैं?

वह सर्वनाम जो पुरुषवाचक सर्वनाम के तीनों पुरुषों: उत्तम पुरुष, मध्यम पुरुष एवं अन्य पुरुष का बोध करता है, उन्हें निजवाचक सर्वनाम कहते हैं।

स्वयं, खुद, अपने, इत्यादि निजवाचक सर्वनाम है।

निजवाचक सर्वनाम के उदाहरण:

सीता ने खुद को चोट पहुंचाई।
मैं स्वयं तुम्हारी सहायता करूंगा।
गाड़ी अपने आप चलने लगी।

उपर्युक्त वाक्यों में प्रयोग होने वाले शब्द — खुद, स्वयं एवं अपने आप निजवाचक सर्वनाम के उदाहरण हैं, क्योंकि यह सर्वनाम तीनों पुरुषों को बहुत करने का कार्य कर रहे हैं।

प्रश्नवाचक सर्वनाम किसे कहते हैं?

वह सर्वनाम जिससे कोई प्रश्न पूछने का बोध होता है, उन्हें प्रश्नवाचक सर्वनाम कहते हैं।

क्या, क्यों, कैसे, कब इत्यादि प्रश्नवाचक सर्वनाम है।

प्रश्नवाचक सर्वनाम के उदाहरण:

कक्षा में कौन बैठा है?
वे शोरगुल क्यों कर रहे हैं?
आप अभी क्या खा रहे हैं?
हम लोग किसका इंतजार कर रही हैं?

उपर्युक्त वाक्यों में प्रयोग होने वाले शब्द — कौन, क्यों, क्या एवं किसका प्रश्नवाचक सर्वनाम के उदाहरण है, क्योंकि उपर्युक्त सर्वनाम प्रश्न पूछने का बोध कर रहे है।

निष्कर्ष।

आशा है! उनकी जानकारियां पढ़ने के बाद आपको सर्वनाम की संपूर्ण जानकारी प्राप्त हो गई होगी। यदि सर्वनाम के संबंध में आपके कोई प्रश्न हो तो आप उन्हें कमेंट करके अवश्य पूछें। यदि आप हमारी सहायता करना चाहते हैं, तो आप इस लेख को अपने मित्रों के साथ शेयर करके हमारी सहायता अवश्य करें।

सर्वनाम किसे कहते हैं?